Homeज्योतिष

साल 2023 में वृश्चिक राशि पर शुरू होगी शनि की ढैय्या, जानिए कैसा बीतेगा साल *आइए जानते हैं एस्ट्रोलॉजर 11:11आचार्य मिनी

ज्योतिष शास्त्र अनुसार वृश्चिक राशि पर मंगल ग्रह का आधिपत्य माना जाता है। मंगल ग्रहों को ग्रहों का सेनापति माना जाता है। जिन लोगों की कुंडली में म

26 दिसंबर को है विनायक चतुर्थी, इर इच्छा पूरी करने के लिए ऐसे करें पूजा *आइए जानते हैं डॉक्टर संजय आर शास्त्री
एकांत पसंद’ और बेहद ‘शांत’ 5 राशियां, अपने अंदर की ऊर्जा पर रहती है निर्भर, जानें क्या आप हैं इनमें शामिल आइए जानते हैं एस्ट्रोलॉजर11:11 आचार्य मिनी
चैत्र नवरात्रि में इस बार ये होगा मां का वाहन, जानें महत्व और संकेत-आइए जानते हैं डॉ संजय आर शास्त्री जी

ज्योतिष शास्त्र अनुसार वृश्चिक राशि पर मंगल ग्रह का आधिपत्य माना जाता है। मंगल ग्रहों को ग्रहों का सेनापति माना जाता है। जिन लोगों की कुंडली में मंगल ग्रह शुभ स्थित होते हैं, वो लोग साहसी और निडर होते हैं। साथ ही ये लोग जोखिम उठाने से नहीं घबराते हैं। मंगल ग्रह से प्रभावित व्यक्ति इंजीनियरिंग, पुलिस, डॉक्टर लाइन में अच्छा नाम कमाते हैं।

वहींअगर वृश्चिक राशि की 1 जनवरी 2023 की गोचर कुंडली में ग्रहों की स्थिति देखें तो आपकी गोचर कुंडली के दूसरे भाव में बुध और सूर्य की युति है। तीसरे भाव में शनि और शुक्र स्थित हैं। वहीं पंचम भाव में गुरु बृहस्पति और छठे भाव में चंद्रमा राहु हैं। साथ ही सप्तम भाव में मंगल और 12वें स्थान में केतु ग्रह स्थित रहेंगे। वहीं जनवरी में शनि देव गोचर करके चतुर्थ भाव में आ जाएंगे। साथ ही गुरु ग्रह अप्रैल में पंचम भाव से छठे स्थान में आ रहे हैं। वहीं अक्टूबर में केतु ग्र आपके 11वें भाव में आ रहे हैं और राहु देव पंचम भाव में गोचर करेंगे। आइए जानते हैं वृश्चिक राशि वालों को 2023 करियर, कारोबार और पारिवारिक जाीवन के लिए कैसा रहेगा…

वृश्चिक राशि वालों का काम- कारोबार
अगर आप नए व्यापार की शुरुआत या काम- कारोबार में कोई बदलाव करना चाहते हैं तो आप फरवरी से मई के दौरान नौकरी में बदलाव या नया व्यापार शुरू कर सकेत हैं। वहीं इसके बाद आप अक्टूबर से लेकर दिसंबर तक बदलाव कर सकते हैं। इस साल नौकरी और व्यापार में तरक्की मध्यम ही रहेगी। लेकिन कार्यस्थल पर थोड़ा परेशानी हो सकती है। क्योंकि शनि देव की दृष्टि आपके कर्म स्थान पर पड़ रही है। इसलिए जूनियर और सीनियर के साथ संबंध खराब हो सकते हैं। इसलिए वाद- विवाद से बचें।वैदिक ज्योतिष अनुसार वृश्चिक राशि वालों के लिए साल 2023 सेहत के लिहाज से मिला जुला साबित हो सकता है। क्योंकि शनि ढैय्या 17 जनवरी से प्रारंभ हो रही है। इसलिए जनवरी से ही आपको अपनी सेहत का विशेष ध्यान रखना चाहिए। मतलब कोई पुरानी बीमारी बन रह सकती है। क्योंकि शनि की तीसरी दृष्टि छठे मतलब रोग स्थान पर पड़ रही है। इसलिए छात्रों के लिए साल 2023 की शुरुआत अच्छी साबित हो सकती है। क्योंकि गुरु ग्रह अप्रैल तक पंचम भाव में विराजमान हैं। इसलिए अगर जो जो विदेश में जाकर पढ़ना और नौकरी करना चाहते हैं तो बड़ी सफलता मिल सकती है। वहीं अप्रैल के बाद सितंबर तक शिक्षा में थोड़ी बाधाएं आ सकती हैं। क्योंकि गुरु ग्रह छठे भाव में गोचर कर जाएंगे। वहीं 15 सितंबर के बाद फिर विदेश में जाकर पढ़ने के योग बनेंगे। प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिल सकती हैशनि देव रोग को बढ़ावा दे सकते हैं। वहीं राहु भी छठे स्थान में विराजमान है। इसलिए वृश्चिक राशि वालों को जनवरी, मार्च, जुलाई और अक्टूबर के महीने में आप लोगों को अपनी सेहत का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

करें ये महा उपाय 2023
इस साल वृश्चिक राशि के लोगों को शनि देव की पूजा- अर्चना करनी चाहिए। साथ ही वृश्चिक राशि के लोगोंं का जब भी जन्मदिन आए तो नवग्रहों की शांति कराएं। साथ ही शनि देव को काले चने और 5 बदाम चढ़ाएं। साथ ही बुधवार के दिन आपको सूखा नारियल और बादाम प्रवाहित करने चाहिए। तो आपको लाभ मिलेगा।

COMMENTS