Homeअमेरिका

आइए जानते हैं डॉक्टर संजय आर शास्त्री जी,मकर संक्रांति पर सूर्य शनि और शुक्र का त्रिग्रही योग, जानें किस राशि को गुड न्यूज, किसे मिलेगी परेशानी

14 जनवरी को सूर्य मकर राशि में पहुंचे और मकर संक्रांति होगी। इस दिन अष्टमी तिथि होगी और शनि शुक्र मिलकर मकर राशि में सूर्य का स्वागत करेंगे। ऐसे म

धर्म से बढ़कर क्या है? मानवता या जो धर्म मानवता का आचरण सिखाये वही सत्य सनातन है- आइए जानते हैं डॉ संजय आर शास्त्री
भगवान विष्णु, राम और कृष्ण की तरह क्यों नहीं लगता महादेव के आगे ‘श्री’-आइए जानते हैं डॉ संजय आर शास्त्री
कुंडली में शुक्र है कमजोर तो भूलकर भी न करें ये काम-आइए जानते हैं डॉ संजय आर शास्त्री जी

14 जनवरी को सूर्य मकर राशि में पहुंचे और मकर संक्रांति होगी। इस दिन अष्टमी तिथि होगी और शनि शुक्र मिलकर मकर राशि में सूर्य का स्वागत करेंगे। ऐसे में मकर संक्रांति पर अबकी बार मकर राशि में तीन ग्रह सूर्य, शनि और शुक्र का त्रिग्रही योग बनेगा। सूर्य को शनि के बीच में शुक्र का प्रभाव क्षीण होगा। ऐसे में सूर्य का मकर राशि में आना मेष से मीन तक सभी राशियों के लिए कैसा रहेगा आइए जानते हैं डॉक्टर संजय आर शास्त्री जी

सूर्य गोचर का मेष राशि पर प्रभाव

मेष राशि वाले लोगों के लिए सूर्य का ये गोचर दशम भाव में हो रहा है। जब सूर्य आपके दशम भाव में आएंगे तो आप अपने कार्यक्षेत्र में बहुत ज्यादा एक्टिव हो जाएंगे। छात्रों के लिए ये समय बहुत अच्छा रहेगा। इसके अलावा नई-नई चीजो की तरफ आपका रुझान बढ़ेगा। राजनीती और मेडिकल के क्षेत्र से जुड़े लोगो के लिए ये बहुत अच्छा समय रहेगा। पारिवारिक संबंधों में कुछ सावधानी बरतने की जरूरत है। तनाव की स्थिति हो सकती है पर समझदारी से काम ले लाभ मिलेगा।
उपाय– सूर्य के मंत्रों का जाप जरूर करे लाभ मिलेगा।

सूर्य गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव

वृष राशि के नवम भाव में सूर्य का यह गोचर रहेगा जो की आपका भाग्य भाव है। इस दौरान जिन चीजों में आपकी रूचि नहीं है उन क्षेत्रों में रूचि बढ़ेगी। इतना ही नहीं इस दौरान आप लग्जरी चीजों पर अधिक पैसा खर्च कर सकते हैं। 15 जनवरी के बाद का समय थोड़ा सा मुश्किल हो जाएगा। इंजीनियरिंग से जुड़े लोगों के लिए समय बहुत अच्छा हो सकता है। करियर से जुड़े लोगों के लिए ये समय ठीक रहेगा। अपने करियर का चुनाव करते समय थोड़ा सावधानी बरते आपको लाभ मिलेगा।
उपाय – आदित्य ह्रदय स्त्रोत्र का पाठ जरूर करे। अपने माथे पर चंदन का तिलक जरूर लगाइए

सूर्य गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव

स अवधि में सूर्य मिथुन राशि के अष्टम भाव में गोचर करेंगे। अष्टम भाव या तो आपको बहुत तरक्की देगा इतना ही नहीं इस दौरान कुछ ऐसी चीजें भी हो सकती हैं जिनके बारे में आपने सोचा भी नहीं होगा। फिलहाल, आपको अपनी सेहत का ध्यान रखना चाहिए। कोई भी वाहन चलाते समय आपको सावधानी बरतनी है। आपका सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा भावनाओ में आकर कोई फैसला न लें। यात्रा के भी योग बन रहे है। मिथुन राशि वालों का करियर अच्छा होगा वह सफलता प्राप्त करेंगे। पारिवारिक संबंध अच्छे बने रहेंगे।
उपाय– भगवान गणेश जी की पूजा करें।

सूर्य गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव

कर्क राशि के लोगों के लिए सूर्य सातवें भाव में गोचर करेंगे। इस अवधि में आप साझेदारी में जो भी काम करेंगे उन सभी से आपको फायदा मिलेगा। इस दौरान आप चीजों को लेकर बहुत सजग रहेंगे। आपके ईगो की वजह से रिश्तों में कुछ तनाव की स्थिति बन सकती है। इस दौरान कार्यक्षेत्र में सहकर्मियों के साथ किसी बात को लेकर तनाव रह सकता है। इस अवधि में जितना कम गुस्सा करेंगे उतना ही आपके लिए अच्छा रहेगा कोशिश करिए की आप खुद को बहुत शांत रखें। कर्क राशि वालों के लिए आज पारिवारिक जीवन सामान्य रहेगा। साझेदारी में कोई भी काम करने से पहले सलाह मशवरा करे लाभ मिलेगा।
उपाय – इस अवधि में राधा कृष्ण की पूजा करे।

सूर्य गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव

सूर्य सिंह राशिवालों के छठे भाव में गोचर करेंगे। ये भाव शत्रु का भी माना जाता है। ये अवधि खास तौर पर आपके लिए अनुकूल रहेगी और कहीं न कहीं पर आपके जितने भी शत्रु है वो खत्म होंगे। सरकारी नौकरी से जुड़े हुए लोगों का आत्मसम्मान में बढ़ोतरी होगी। जो लोग प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे है उनके लिए समय बहुत अच्छा रहेगा। इस दौरान आपका करियर काफी ज्यादा अच्छा रहने वाला है।
उपाय – इस अवधि में गायत्री मंत्र का जाप करना अच्छा रहेगा।

सूर्य गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव

कन्या राशि के लोगों के लिए सूर्य का गोचर पंचम भाव में रहेगा। पंचम भाव रिश्तों से जुड़ा भाव होता है। ये अवधि आपके बच्चो के लिए बहुत अच्छी रहेगी। जो लोग उच्च शिक्षा की तैयारी कर रहे है उनके लिए समय बहुत अच्छा रहेगा। प्रेम जीवन में थोड़ी तनाव की स्तिथि बनती हुई दिखाई दे रही है। इस गोचर में आपको इस बात का ध्यान रखना है की आप अभी किसी को प्रपोज न करे। फिलहाल, करियर पर आपको खास ध्यान देने की जरूरत है।
उपाय- मां सरस्वती की उपासना जरूर करें। आपको लाभ मिलेगा।

सूर्य गोचर का तुला राशि का प्रभाव

तुला राशि के जातकों के लिए सूर्य चतुर्थ भाव में गोचर करेंगे। चतुर्थ भाव माता का भाव और सुख का भाव भी माना जाता है। इस दौरान आप कुछ नया सीखने की कोशिश करेंगे। आपकी कोशिश रहेगी की आप सभी चीजों को अपने तरीके से चला सकें। आज आपको पैतृक संपत्ति को लेकर खुशी मिलेगी। इस दौरान आपको सलाह है कि अपनी माता की सेहत का पूरा ध्यान रखें। पारिवारिक रिश्तो में संबंध मधुर रहने वाले हैं। इस दौरान अपनी बोलचाल में नरमी रखें। करियर के लिहाज से यह अवधि आपके लिए अनुकूल रहने वाली है।
उपाय – मकर संक्रांति के इस शुभ अवसर पर ज़रूरतमंदो को चीनी चावल का दान दे लाभ मिलेगा

सूर्य गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव

सूर्य वृश्चिक राशिवालों के पराक्रम भाव में गोचर करेंगे। जब सूर्य आपके पराक्रम भाव में आएंगे तो आपको आत्मबल मिलेगा। ये समय वो है जो पहले से सोचा हुआ है उससे करने की कोशिश करेंगे और उसमे आपको अच्छा परिणाम मिलेंगे। साझेदारी में आपको काम करना बहुत लाभ देगा। इस अवधि में जो लोग सरकारी नौकरी में जाना चाहते है उनके लिए समय अच्छा है। यह अवधि घर परिवार में माहौल काफी ज्यादा अच्छा रहेगा।उपाय – शनिवार और मंगलवार के दिन हनुमान जी को चोला चढ़ाएंगे।

सूर्य गोचर का धनु राशि पर प्रभाव

गुरु की राशि धनु राशि में सूर्य दूसरे भाव में प्रवेश करेंगे। दूसरे भाव आपको बहुत ही सफलता दिलाएगा। यह अवधि आपके लिए तरक्की दिलाने वाली रहेगी। इस दौरान आपको अपनी मेहनत का पूरा फल मिलेगा। व्यापार वर्ग को इस दौरान अपने काम में थोड़ी स्टेबिलिटी मिलेगी। धन के मामले में यह समय काफी शानदार साबित होगा। इस दौरान की गई यात्राएं भी आपको अच्छा खासा लाभ दिलाएंगी। धनु राशि वाले लोगो के लिए ये समय बहुत अच्छा रहेगा। करियर में सफलता मिलेगी। पारिवारिक संबंध काफी मधुर रहने वाले हैं।
उपाय – सुबह उठ कर नारायण कवच का पाठ करे।

सूर्य गोचर का मकर राशि का प्रभाव

सूर्य मकर राशि में ही प्रवेश करने जा रहे हैं। सूर्य आपके लग्न भाव को प्रभावित करेगा क्योंकि,सूर्य आपके लग्न भाव में आ जाएंगे। इस अवधि में आपका मनोबल बहुत ही बढ़िया रहने वाला है। इस अवधि में लोग आपकी तरफ आकर्षित हो सकते है। जो महिलाएं व्यापार करने का सोच रही हैं इस अवधि में वह अपना कारोबार शुरू कर सकते हैं। करियर के मामले में आप बुलंदियां हासिल करेंगे। सूर्य का गोचर आपकी पारिवारिक लाइफ को भी शानदार बना देगा।
उपाय– शनि का दान जरूर करें लाभ होगा। आदित्य ह्रदय स्तोत्र का पाठ करे।

सूर्य गोचर का कुंभ राशि का प्रभाव

सूर्य कुंभ राशि से बारहवें भाव में गोचर करने जा रहे हैं। इस दौरान आपका मनोबल थोड़ा सा कम हो सकता है। कामकाज में थोड़ी रूकावट भी आ सकती है। आपको सलाह है कि किसी पर भी आंख बंद करके भरोसा करना इस दौरान आपके लिए हानिकारक रह सकता है। इस दौरान रिश्तों को लेकर ज्यादा भावुक होने से बचें तो आपके लिए बेहतर रहेगा। साथ ही किसी पर भी निर्भर न रहे। इतना ही नहीं इस अवधि में व्यापार में उन्नति देखने को मिलेगी। आप अच्छा मुनाफा भी कमाएंगे। करियर में सफलता मिलेगी बहुत सोच समझ कर करियर का चुनाव करें लाभ मिलेगा।

उपाय – गायत्री मंत्र का जप करे।

सूर्य गोचर का मीन राशि पर प्रभाव

मीन राशि वाले जो लोग है आपके ग्यारवे भाव में सूर्य गोचर करेंगे। एकादश भाव लाभ का स्थान माना जाता है तो आपको लाभ दिलाएगा। पैसे का आगमन हो सकता है अलग अलग क्षेत्र में खर्च बढ़ सकता है। छात्रों के लिए बहुत अच्छा समय है। इस दौरान आपका मनोबल बहुत बढ़ा रहेगा जो लोग राजनीती में आपने करियर बनाना चाहते है उनके लिए ये स्थिति बहुत ही अनुकूल रहने वाली है। करियर के मामले में सफलता मिलेगी। पारिवारिक सम्बन्ध अच्छे रहेंगे।
उपाय – सूर्य के मंत्रो का जप करे।

डॉक्टर एस आर शास्त्री जी
चेयरमैन
सनातन धर्म मंदिर केंट वाशिंगटन
वैदिक एस्ट्रो साइंस फाउंडेशन ऑफ़ अमेरिका

Contact America
+1425-329-9314
India
+919811888383

 

COMMENTS