Homeदिल्ली

सावधान…सावधान…सावधान….स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना को लेकर हालात बद से बदतर होने की आशंका जताई

नई दिल्ली -: जो लोग कोरोना के संक्रमण को लेकर अब निश्चिंत हो गए थे , वह सावधान हो जाएं । असल में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना के देश में बढ़ते मामलो

कोरोना से हालात बेकाबू, पीएम मोदी की सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक आज
दिल्ली में NLR India के द्वारा कुष्ठ रोगियों के लिए Self Care कैंप आयोगित किया गया l
फ्री बिजली पर रोक लगाना चाहते हैं एलजी – बिजली मंत्री आतिशी

नई दिल्ली -: जो लोग कोरोना के संक्रमण को लेकर अब निश्चिंत हो गए थे , वह सावधान हो जाएं । असल में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना के देश में बढ़ते मामलों को लेकर आशंका जताई  है कि आने वाले दिनों में स्थिति बद से बदतर होगी । स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक जानकारी साझा करते हुए साफ किया है कि देश में 47 ऐसे जिले हैं , जहां सरकारों को और प्रशासन को बहुत ज्यादा ध्यान देना होगा । इतना ही नहीं इन जिलों में RT – PCR टेस्ट की संख्या बढ़ानी होगी । 

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मिली जानकारी के अनुसार ,  देश में जिन जिलों में सबसे अधिक कोरोना के एक्टिव केस हैं, उनमें से अधिकतर महाराष्ट्र के ही हैं । अभी पुणे, मुंबई, नागपुर, ठाणे, नासिक, औरंगाबाद, बेंगलुरू अर्बन , नादेंड , अहमदाबाद और दिल्ली में सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं । 

मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि कुछ राज्यों में चिंता की बात ज्यादा है । इन राज्यों से देश के दूसरे हिस्सों में भी हालात बिगड़ सकते हैं । ऐसे मौके पर लापरवाही हुई तो हालात बद से बदतर हो जाएंगे । 

कोरोना पॉजिटिव रेट की रफ्तार भी सबसे अधिक महाराष्ट्र में है , जहां देश का औसत अभी 5.65 फीसदी पर है, जबकि महाराष्ट्र का औसत 23 फीसदी तक पहुंच गया है ।

आंकड़ों के अनुसार , 1 मार्च को महाराष्ट्र में संक्रमित मरीजों की संख्या 70 हजार थी , जो अब साढ़े तीन लाख तक पहुंच गई है । ऐसे में साफ हो रहा है कि देश में कोरोना संक्रमण के 70 फीसदी मामले महाराष्ट्र से ही हैं । 

 वहीं दूसरे नंबर पर पंजाब में स्थिति खराब है , जहां यह 8.82 फीसदी पहुंच गया है । मार्च में प्रतिदिन करीब 2700 लोगों के संक्रमित होने का आंकड़ा सामने आया है । पंजाब में प्रतिदिन मौत का आंकड़ा भी 8 से अब 50 पर पहुंच गया है । स्वास्थ्य मंत्रालय ने आंकड़े जारी करते हुए साफ किया है कैसे मार्च में एक बार फिर से कोरोना संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा होने लगा है । मार्च की शुरुआत में संक्रमितों की संख्या जहां 1.75 के करीब थी , वहीं 30 दिनों में यह आंकड़ा बढ़कर 5.52 के करीब पहुंच गया है । ऐसे में आने वाले दिनों में स्थिति और खराब होने की आशंका है । 

COMMENTS